Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

हरदोई,75वीं वर्षगांठ पर अमृत महोत्सव मना रहा हिन्दुस्थान समाचार, काशी से दुनिया को एकता के सूत्र में पिरोएगा .

post

हरदोई,75वीं वर्षगांठ पर अमृत महोत्सव मना रहा हिन्दुस्थान समाचार, काशी से दुनिया को एकता के सूत्र में पिरोएगा 


- भारतीय भाषाओं की आवाज है बहुभाषी हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी 


- राष्ट्रीय एकात्म और भारतीय भाषाएं कार्यक्रम में बहेगी अमृत धारा 


- हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी मूल मंत्र है- सत्य, संवाद, सेवा और सहकार 


हरदोई। 03 सितम्बर 2022, दिन शनिवार...। देश के एकमात्र बहुभाषी न्यूज एजेंसी हिन्दुस्थान समाचार के राष्ट्रीय एकात्म और भारतीय भाषाएं कार्यक्रम का काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के मालवीय मूल्य अनुशीलन केंद्र महामना सभागार साक्षी बनेगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी के लिए यह स्वर्णिम अवसर होगा। आजादी के अमृत महोत्सव पर राष्ट्रीय एकात्म और भारतीय भाषाएं कार्यक्रम में अमृत धारा बहेगी ही, राष्ट्रीय एकता, सभ्यता व संस्कृति का बोध कराएगा। यही नहीं, शिव-शक्ति-गंगा के संगम स्थल काशी से पूरी दुनिया को एकता के सूत्र में पिरोएगा। सत्य, संवाद, सेवा की राह पर चल रहा बहुभाषी न्यूज एजेंसी 75वीं वर्षगांठ पर अमृत महोत्सव मनाएगा। 


75 वर्ष की यात्रा... 


दरअसल, आजादी के बाद 1948 में बहुभाषी न्यूज एजेंसी हिन्दुस्थान समाचार की स्थापना हुई थी। हिन्दुस्थान समाचार भारत की एक प्रमुख बहुभाषी समाचार संस्था है। ​यह भारत की पहली बहुभाषी समाचार एजेन्सी है। दो सौ से अधिक समाचार पत्र व दूरदर्शन सहित लगभग सभी समाचार चैनल इसके ग्राहक हैं। पश्चिमी प्रभाव के बीच भारतीय विचार-दृष्टि के उर्वर भूमि तैयार करने में शामिल रहे चिंतक ​दादा साहेब आप्टे ने ​हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी की स्थापना 10 अप्रैल, 1948 को की थी। उस समय इसने दस भाषाओं ( बांग्ला, ओड़िया, असमिया, तेलुगु, मलयालम, उर्दू, पंजाबी, गुजराती, हिन्दी और मराठी)) में समाचार देना आरम्भ किया। 


भारतवंशियों को भाव-भूमि से जोड़ने वाले स्व. बालेश्वर अग्रवाल के यशस्वी संपादन व प्रबंधन में हिन्दुस्थान समाचार देश की सबसे प्रामाणिक और प्रतिष्ठित न्यूज एजेंसी के रूप में स्थापित हुई। एक समय ऐसा भी आया जब हिन्दुस्थान समाचार अपने वजूद के लिए संघर्ष कर रहा था। तब राष्ट्र कार्य के लिए समर्पित स्व. श्रीकांत जोशी ने सन् 2003 में हिन्दुस्थान समाचार को नया जीवन दिया। हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी मूल मंत्र है- सत्य, संवाद, सेवा और सहकार। मौजूदा समय में अध्यक्ष अरविन्द मार्डीकर के नेतृत्व में इसी पथ पर समाचार एजेंसी आगे बढ़ रही है। 


हिन्दुस्थान समाचार लेख, फीचर, फोटो सर्विस भी प्रदान करता है। आधुनिक प्रौद्योगिकी के दृष्टिगत न्यूज स्कैन की सेवा भी प्रदान कर रहा है। हिन्दुस्थान समाचार द्वारा वार्षिकी का भी प्रकाशन किया जाता रहा है। यह प्रतिवर्ष की महत्वपूर्ण जानकारी समेटते हुए इतिहास दृष्टि विकसित करने के लिए प्रतिष्ठित है। ‘यथावत’ हिन्दुस्थान समाचार समूह की हिन्दी पाक्षिक पत्रिका है। इस पत्रिका ने पाठकों के बीच अपनी स्वतंत्र और मजबूत पहचान बनाई है। साथ ही ‘युगवार्ता’ (हिन्दी साप्ताहिक), ‘नवोत्थान’ (हिन्दी व बांग्ला मासिक), ‘यथावत’ पत्रिका का भी प्रकाशन किया जाता रहा है। भारतीय नववर्ष (चैत्र प्रतिपदा) के अवसर पर प्रतिवर्ष हिन्दुस्थान समाचार की तरफ से दैनन्दिनी का प्रकाशन किया जाता है, जिसमें भारतीय तिथि के साथ-साथ अंग्रेजी दिनांक भी होते हैं। भारतीय काल-क्रम पर आधारित यह दैनन्‍दिनी बहुपयोगी है। 


न्यूज एजेंसी की दुनिया में हिन्दुस्थान समाचार की विश्वसनीयता 


​देश के सर्वाधिक प्रसार संख्या वाले प्रतिष्ठित समाचार चैनल ‘डीडी न्यूज’ और ‘आकाशवाणी’ को छह भाषाओं में हिन्दुस्थान समाचार अपनी सेवा प्रदान कर रहा है। नेपाली भाषा के कई अखबार भी हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी के ग्राहक हैं।​ ​तमाम झंझावात के बावजूद मीडिया जगत में हिन्दुस्थान समाचार अडिग रहा है और आगे भी रहेगा। खबर को पूरी प्रामाणिकता के साथ प्रस्तुत करना हिन्दुस्थान समाचार का धर्म रहा है। न्यूज एजेंसी की दुनिया में हिन्दुस्थान समाचार की विश्वसनीयता का लोहा माना जाता है।


लोकतंत्र की रक्षा के लिए हिन्दुस्थान समाचार की भूमिका का स्वर्णिम इतिहास


पत्रकारीय मूल्यों के साथ-साथ लोकतंत्र को परिष्कृत करने में भी यथासंभव अपनी भूमिका निभाई है। आपातकाल के दिनों में लोकतंत्र की रक्षा के लिए हिन्दुस्थान समाचार की जो भूमिका रही है, वह स्वर्णिम इतिहास है। निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता के चलते हिन्दुस्थान समाचार सत्ता प्रतिष्ठान का कोपभाजक बनता रहा है, लेकिन लक्ष्य ‘लोकतंत्र का परिष्कार और पुरस्कार’ रहा है। 




देश की सर्वाधिक ग्राहकों वाली न्यूज एजेंसियों में शीर्ष पर 


इस समय यह भारत की प्रमुख समाचार संस्था बन चुकी है। यह एजेंसी हिन्दी और उर्दू के साथ-साथ पंजाबी, मराठी, तमिल, गुजराती, असमिया, ओड़िया, कन्नड, बांग्ला, सिन्धी और नेपाली आदि भाषाओं में समाचार उपलब्ध कराती है। इस दृष्टि से यह संस्था भारतीय भाषाओं की आवाज है। हिन्दुस्थान समाचार देश की सर्वाधिक ग्राहकों वाली न्यूज एजेंसियों में शीर्ष पर है। ​​हिन्दुस्थान समाचार​ का सबसे बड़ा ग्राहक ​देश का लोक सेवा प्रसारक​​​ प्रसार भारती है।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner