Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

शाहजहाँपुर,मुरादाबाद के अपराधी ने रचा खुद की मौत का खेल,शाहजहांपुर में रहकर करने लगा प्रॉपर्टी डीलिंग का काम.

post

शाहजहाँपुर,मुरादाबाद के अपराधी ने रचा खुद की मौत का खेल,शाहजहांपुर में रहकर करने लगा प्रॉपर्टी डीलिंग का काम



लाखों के कर्जे से बचने के लिए मुकेश यादव ने रची साजिश 


उत्तराखंड के खटीमा में मोर्चरी में एक अज्ञात शव को पहनाए अपने कपड़े

दिनेश मिश्रा वरिष्ठ पत्रकार

शाहजहांपुर(उ०प्र०)  

अक्सर आपने फिल्मों में कई बार ऐसी कहानियां देखी होंगी।जहां अपराधी अपनी मौत का दिखावा करता है और एक नई पहचान के साथ दूसरे शहरों में रहने लगता है। ऐसा सिर्फ फिल्मों में ही नहीं रियल लाइफ में भी होता है। ऐसा ही एक प्रकरण उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर से सामने आया है। अपराध जगत में सक्रिय मुरादाबाद का मुकेश यादव खुद को मृत दर्शा कर पिछले सात सालों से शाहजहांपुर मे रह रहा था। यहां तक कि उसने अपने सगे संबंधियों से रिश्तेदारी और नाते तोड़ लिये। और तो और उसने यहां आकर उसने शादी भी कर ली।अब इस शातिर अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार कर साजिश का खुलासा किया है।

जानकारी के मुताबिक अपने ऊपर दर्ज मुकदमों से बचने के साथ-साथ कई बीमा कंपनियों से मोटी रकम हासिल करने और सुरक्षा गार्डों के लाखों रुपए के कर्ज से बचने के लिए मुकेश यादव ने यह पूरी साजिश रची। वह शाहजहांपुर में प्राप्रटी डीलिंग  का काम कर लोगों को बेवकूफ बना रहा था।पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।


पुलिस ने बरामद किए फर्जी कागजात


पूरा मामला थाना रोजा क्षेत्र का है।जहां पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मुकेश यादव को पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। मुकेश पिछले सात सालों से अपने आप को मृत दर्शाकर रहा था। पुलिस ने उसके पास से मुनेश यादव नाम के फर्जी कागजात बरामद किए हैं।लूट,हत्या के प्रयास,अवैध हथियारों के मामले में उस पर मुरादाबाद में सात मुकदमे दर्ज हैं।


ऐसे रची साजिश


बताया जाता है कि पिछले सात साल पहले मुकेश यादव ने उत्तराखंड के खटीमा में मिलीभगत कर मोर्चरी में रखे एक सड़े गले अज्ञात शव को अपने कपड़े पहना दिये थे।साथ ही अज्ञात शव के कपड़ों में अपना आधार कार्ड व पहचान पत्र भी रखवा दिया था।इसके बाद उस शव के पोस्टमार्टम की साजिश रच कर खुद को मृत साबित कर दिया। इसके बाद वह शाहजहांपुर में अपनी पहचान बदलकर रहने लगा।


शाहजहांपुर में रहकर करने लगा प्रॉपर्टी डीलर का काम


शाहजहांपुर के एसपी सिटी संजय कुमार ने बताया कि मुकेश यादव ने खुद को मृत साबित करने के बाद आरोपी ने  मिलीभगत कर बीमा कंपनियों से बीमा के लाखों रुपए प्राप्त कर लिये।इसके साथ ही उस पर दर्ज मुकदमे भी खत्म हो गए। बाद मे वह शाहजहांपुर के थाना रोजा के मठिया कॉलोनी में मुनेश यादव के नाम से रहने लगा। इस दौरान उसने अपने प्रॉपर्टी और खुद के फर्जी कागज बना लिये और शाहजहांपुर मे रहकर प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करने लगा। फिलहाल शाहजहांपुर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

लेकिन अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि जिस लावारिस लाश का इस्तेमाल इस मास्टरमाइंड शातिर अपराधी ने अपने मुकदमे खत्म करने एवं अमीर बनने के लिए किया आखिर वह लाश किसकी थी ? 

फिलहाल शाहजहांपुर पुलिस उत्तराखंड पुलिस से जल्द ही संपर्क कर इसका भी खुलासा करने का दावा कर रही है।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner