Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

मध्य प्रदेश अड़ीवाज सरपंच पद के प्रत्याशी ने रोका 3 घंटे मतदान,समय 7 बजे होना था वोटिंग,नियम विरुद्ध 10 बजे से वोटिंग कार्य हुआ था शुभारंभ.

post

मध्य प्रदेश अड़ीवाज सरपंच पद के प्रत्याशी ने रोका 3 घंटे मतदान,समय 7 बजे होना था वोटिंग,नियम विरुद्ध 10 बजे से वोटिंग कार्य हुआ था शुभारंभ


एमपी,जिला कटनी - जनपद ढीमरखेड़ा क्षेत्र  क्रमांक 23 प्रथम चरण में हुये ग्राम पंचायत अंतर्वेद के चुनाव में लापरवाही का नजारा सामने आया है। खास बात है कि ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि दिनांक 25-6-2022 के चुनाव में वोटिंग का समय शासन ने 7 बजे से 3 बजे का रखा गया था किन्तु सरपंच पद के प्रत्याशी गोकर्ण उर्फ पंकज मिश्रा ने अपने साथियों को साथ लेकर दबंगता के साथ मतदान परिसर के अंदर एवं गेट में बैठकर चुनाव आयोग के निर्देशों का उलंघन किया गया एवं  हंगामा मचाते हुए तीन घंटे वोटिंग रोकी गई जिम्मेदार अधिकारियों ने हंगामा मचाने वालों के ऊपर किसी प्रकार से कार्रवाई नहीं की गई इन्हीं कारणों से दतकरीबन 10 बजे से वोटिंग चालू की गई थी। संबंधित अधिकारियों ने समय न बढ़ाते हुए 3 बजे ही गेट में ताला लगा दिया गया था इसके बावजूद भी कुछ वोटरों को दबंग प्रत्याशी ने मिली भगत से पीछे के रास्ते से पोलिंग बूथों पर पहुंचाया गया है। इन्हीं कारणों से रात्रि 10 बजे तक मतदान चला। अधिकारियों की लापरवाही के चलते सरपंच के चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी गोकर्ण मिश्रा व उसके साथियों के सामने अधिकारी दबाओं में नजर आते दिखाई दिये। जिसके चलते समय में लापरवाही बरती गई है। पीठासीन अधिकारी व थाना प्रभारी उमरियापान ने अन्य सरपंच प्रत्याशियों को गुमराह करते हुए बताया गया कि विवादित स्थिति बनने के कारण वोटिंग लेट चालू हुई है इसलिए मतगणना जनपद स्तर पर की जायेगी। अधिकारियों के गुमराह करने पर अन्य प्रत्याशी अपने साथियों के साथ अपने अपने घर चले गये। इसका फायदा उठाते हुए अधिकारियों की मिली भगत से सरपंच पद के प्रत्याशी गोकर्ण उर्फ पंकज मिश्रा ने रात्रि तकरीबन 4 बजे मतगणना करवाकर सरपंच पद का दावा किया गया है। ग्रामवासियों ने आरोप लगाया है कि  चुनाव आयोग की अवहेलना करते हुए प्रत्याशी गोकर्ण उर्फ पंकज मिश्रा ने पोलिंग बूथों पर नमकीन शरबत वोटरों को बंटवाकर प्रचार प्रसार भी करवाया गया है। आक्रोशित ग्रामीणों ने पंचायत चुनाव में हुई घोर गड़बड़ी के कारण रिटार्निंग ऑफिसर से मांग की गई है कि अंतर्वेद की पांचों पोलिंग बूथों की पुनर्मतगणना कराईं जावे अन्यथा उग्र आंदोलन करने में विवष हो जायेंगे जिसकी जवाबदारी स्वयं जिम्मेदार अधिकारियों की होगी। चुनाव में हुई लापरवाही के संबंध में निर्वाचन सदन  नई दिल्ली, राज्य निर्वाचन आयोग म.प्र.भोपाल, जिला अधिकारी कटनी,रिटार्निंग ऑफिसर ढीमरखेड़ा को अवगत कराया गया है।


इनका कहना

विकासखण्ड निर्वाचन अधिकारी प्रियंका नेताम ने बताया कि शिकायत प्राप्त हुई है जांच कराई जाएगी।

रिपोर्टर सत्येंद्र बर्मन

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner