Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

अटरिया,ज्यादा मुनाफा के चक्कर में अवैध खोयामंडी संचालक कर रहे जनमानस के जीवन से खिलवाड़.

post

अटरिया ,बनौगा मार्ग पर धड़ल्ले से हो रहा अवैध मावा (खोया मंडी) का संचालन,जिम्मेदार बने अनजान

क्षेत्र में धड़ल्ले से हो रहा अवैध खाद्य पदार्थों का व्यापार , जिम्मेदार बने धृतराष्ट्र

 ज्यादा मुनाफा के चक्कर में अवैध खोयामंडी संचालक कर रहे आम जनमानस के जीवन से खिलवाड़

 क्षेत्र में धड़ल्ले से बगैर किसी परमिशन के संचालित हो रही दर्जनों खोया मंडी 

 

              ( मंडी संचालक विमलेश कुमार दीक्षित)

अधिकारियों की नाक के नीचे संचालित मानक विहीन खोया मंडी संचालक  विमलेश कुमार दीक्षित पुत्र दुर्गा प्रसाद दीक्षित निवासी ग्राम आहलाद पुर के हौसले बुलंद


सिधौली-सीतापुर । उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जहां आम जनमानस के स्वास्थ्य को लेकर सजग दिखाई देती है वही सीतापुर सिधौली के अटरिया बनौगा मार्ग देवरिया गांव के सामने, व बनौगा बाजार, छावन बाजार , में फ़ूड अधिकारियों को गुमराह करते हुए विमलेश कुमार दीक्षित पुत्र दुर्गा प्रसाद दीक्षित निवासी ग्राम आहलाद पुर अटरिया सीतापुर नामक ब्यक्ति द्वारा अवैध खोया मंडी(मावा मंडी) का संचालन मन माने धन से किया जा रहा है सूत्रों के माने तो मंडी संचालक नेहा अधिकारियों से अच्छी बैठ बना रखी है  जिस कारण क्षेत्र के खाद्य अधिकारी मंडी संचालक पर कार्यवाही जैसे कदम उठाने से पीछे हट जाते है हालांकि क्षेत्र में अन्न खाद्य सामग्री विक्रेताओ का लाइसेंस बनाया जा रहा है फिर भी लम्बे समय से संचालित खोया मंडी का ना तो लाइसेंश बना है और ना ही खोया बिक्री कर रहे खुदरा विक्रेता का लाइसेंस बनाया गया है 

क्षेत्र में स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रही मानक विहीन एवं बिना लाइसेंस संचालित खोया मंडियों पर कार्यवाही ना होना सुविधा शुल्क दिए जाने जैसे सवाल खड़े करती हैं


जनपद सीतापुर के अटरिया बनौगा मार्ग ही नही छावन  बाजार ही नहीं कई अन्य बाजारों में पंडित के नाम से मशहूर विमलेश कुमार दीक्षित पुत्र दुर्गा प्रसाद दीक्षित निवासी ग्राम आहलादपुर मंडी संचालक ने खाद्य अधिकारियों की सांठगांठ से क्षेत्र में फैला रखा है अवैध खोया बिक्री का मकड़जाल अटरिया क्षेत्र में भ्रष्टाचार के चलते या यूं कहें कि खाऊ कमाऊ नीति के चलते लोगों की सेहत को नुकसान पहुंचाने वाली मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री जोरों पर है । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार फूड स्पेक्टर की सरपरस्ती में क्षेत्र में धड़ल्ले से मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री जोरों पर है जिसका जीता जागता उदाहरण क्षेत्र में धड़ल्ले से संचालित हो रही दर्जनों अवैध खोया मंडी के रूप में देखा जा सकता है जब हमारी टीम ने इसकी पड़ताल की तो पता चला सिर्फ अटरिया में तीन जगह अवैध खोया मंडी संचालित हो रही हैं इसके अलावा छावन सिधौली इत्यादि दर्जनों अवैध खोया मंडी संचालित हो रही है जिनमें अधिकतर लोगों के पास तो नाही फूड लाइसेंस है और ना ही किसी तरह का सरकार द्वारा बनाए गए नियमों का पालन किया जाता है । जिनका लाइसेंस है भी वह कहीं और का और संचालन कहीं और किया जा रहा या इतना ही नही लाइसेंस खुदरा विक्रेता के तौर पर बना है और चलाई आढत का संचालन किया जा रहा है । जब इस विषय पर इलाके के फूड इंस्पेक्टर से बात की गई तो वह वही रटा रटाया  जवाब मुझे जानकारी नहीं है देखो मैं देखता हूं कहकर मामले को गोलमोल करते हुए फोन काट दिया जाता हैं ।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner