Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

इटावा,कार्बोनेटेड कोल्ड ड्रिंक का सेवन बच्चों के लिए है नुकसानदेह - डॉ आलम.

post

इटावा,कार्बोनेटेड कोल्ड ड्रिंक का सेवन बच्चों के लिए है नुकसानदेह - डॉ आलम


अभिभावक बच्चों को घरेलू पेय-पदार्थ के लिए करें प्रोत्साहित-डाइटिशियन 


इटावा 4 अप्रैल 2022।

हर घर में बच्चा गर्मियां शुरू होते ही कोल्ड ड्रिंक पीने की मांग करता है और बाजार में आसानी से उपलब्ध होने वाली यह कोल्ड ड्रिंक को हम अपने बच्चों को पीने के लिए देते हैं।लेकिन बाजार में आने वाले विभिन्न कार्बोनेटेड कोल्ड ड्रिंक्स का सेवन बच्चों के लिए नुकसानदेह है यह कहना है जिला अस्पताल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ शादाब आलम का।

डॉ आलम ने बताया कि कार्बोनेटेड कोल्ड ड्रिंक्स में किसी भी तरह का फ्रूट जूस या फल का प्रयोग नहीं होता है। इसमें फास्फोरिक एसिड और कार्बन डाइऑक्साइड गैस व कैफ़ीन का प्रयोग किया जाता है। इससे शरीर को किसी भी तरह का फायदा नहीं बल्कि नुकसान ही होता है।


डॉ आलम ने बताया कि कोल्ड ड्रिंक का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से बच्चों को कई तरह की बीमारियां भी हो सकती हैं जैसे- मोटापा, पाचन क्रिया बिगड़ना, फैटी लीवर,हड्डियां व दांत कमजोर होना।

उन्होंने बताया कि बच्चे अक्सर कोल्ड ड्रिंक पीने की जिद करते हैं इसलिए अभिभावकों को ध्यान देना होगा उनको कोल्ड ड्रिंक का सेवन कराएं तो कम मात्रा में कराएं।

डॉ आलम ने बताया कि कोल्ड ड्रिंक्स का ज्यादा सेवन करने से कोल्ड ड्रिंक में जो फास्फोरिक एसिड होता है वह कैल्शियम के स्तर को कम कर देता है जिससे बच्चों के हड्डी व दांत कमजोर हो जाते हैं। कार्बोनेटेड कोल्ड ड्रिंक के अधिक सेवन से कॉर्टिसोल हार्मोन का स्त्राव भी बढ़ जाता है। जिससे बच्चे का मानसिक विकास व मानसिक संतुलन भी प्रभावित होता है।


जिला अस्पताल की आहार विशेषज्ञ डॉ अर्चना ने बताया की हम अपने समुदाय में निरंतर देख रहे हैं बच्चे कोल्ड ड्रिंक्स का प्रयोग ज्यादा कर रहे हैं इसलिए अभिभावकों को बच्चों को घरेलू पेय पदार्थ का सेवन करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिेए। उन्होंने कहा कि बाजार में मिलने वाली कोल्ड ड्रिंक्स पीने की बजाए बच्चों को नींबू पानी,शरबत, बेल का रस, जूस, शिकंजी, फ्रूट कॉकटेल,गन्ने का रस, नारियल पानी आदि विकल्प के रूप में देने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने बताया कि कोल्ड ड्रिंक्स के अलावा पैक्ड जूस भी ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक नहीं होते इसीलिए बच्चों को घरेलू पेय पदार्थ का सेवन अवश्य करवाएं।

उन्होंने बताया कि  कार्बोनेटेड कोल्ड ड्रिंक्स  में बहुत ज्यादा शुगर होती है जो हमें फास्फोरिक एसिड की वजह से महसूस नहीं होती इसी ज्यादा शुगर की वजह से बच्चों का रक्त संचरण तो प्रभावित होता ही है साथ ही बच्चे मोटापे के शिकार भी हो जाते हैं।

डॉ अर्चना ने जनपद वासियों से अपील की जो बच्चे ज्यादा कोल्ड ड्रिंक का सेवन करते हैं उन्हें अभिभावक मेरे पास आकर निशुल्क काउंसलिंग भी करा सकते हैं व मेरे द्वारा बच्चों की आहार तालिका के संदर्भ में निशुल्क सलाह भी ले सकते हैं।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner