Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

हरदोई, करवा चौथ पर मेंहदी रचे हाथ महिलाओं के श्रृंगार में लगा रहे चार चांद:उमा सक्सेना.

post

हरदोई, करवा चौथ पर मेंहदी रचे हाथ महिलाओं के श्रृंगार में लगा रहे चार चांद:उमा सक्सेना


हरदोई।महिला सत्संग मण्डल की प्रमुख उमा सक्सेना के अनुसार मेंहदी रचे हाथ महिलाओं के श्रृंगार में चार चांद लगा देते हैं। महिलाओं ने पूर्ण श्रृंगार किया हुआ हो लेकिन अगर हाथों में मेंहदी न रची हो, तो श्रृंगार पूरा नहीं माना जाता है। बात जब करवा चौथ के त्योहार की हो तो फिर क्या ही कहना। करवा पर तो हर महिला सबसे खूबसूरत दिखना चाहती है और खूबसूरती की तैयारी सबसे पहले मेंहदी रचाने ही होती है। इसके लिए करवा से एक दिन पहले ही महिलाओं ने मेंहदी लगवाना शुरू कर दिया है।

चौक, होलीकला, दिलेरगंज में ब्यूटी पार्लर वाली महिलाएं करवा चौथ पर मेंहदी लगाने के लिए अपने पार्लर सजाए दिखीं। महिलाओं ने जाकर मेंहदी रचाई। किसी ने केवल हथेली पर तो किसी ने पूरे हाथ पर ही अपनी पसंद की मेंहदी रचाई।

मेंहदी वालों को जैसे ऐसे अवसरों की चाहत होती है। वे अपनी पूरी कलात्मकता से मेंहदी रचाने में जुटीं। किसी के पास बात करने के लिए भी समय न था। मेंहदी लगाने वाली प्रियंका वर्मा ने बताया कि करवा चौथ ऐसा त्योहार है कि महिलाएं इसमें विशेष रूप से मेंहदी लगवाना पंसद करती हैं।बताया कि इसमें काफी संख्या में महिलाएं मेंहदी लगवाने आती हैं। काफी देर तक मेंहदी लगवाने के लिए इंतजार भी करती हैं।

साथ में खड़ी एक अन्य मेंहदी लगाने वाली महिला ने बताया कि मेंहदी दो तरीके से लगाई जाती है। एक अरेबिक मेंहदी और दूसरी मारवाड़ी मेंहदी होती है।बताया कि अरेबिक मेंहदी का तरीका मारवाड़ी मेंहदी की अपेक्षा थोड़ा हल्का होता है। हम लोग ज्यादात्तर अरेबियन मेंहदी ही लगाना पसंद करते हैं। कोई कहता है तभी मारवाड़ी मेंहदी लगाते हैं। इसमें घनी मेंहदी लगाई जाती है।

बताया कि मेंहदी 100 से 500 रूपए तक में लगती है। यह ग्राहक की पसंद पर निर्भर करता है। होलीकला में महिलाएं सुबह ही मेंहदी लगवाने जाने लगी थीं।ब्यूटीशियन ने बताया कि जैसे -जैसे दिन ढलता है तो मेंहदी लगाने के दाम भी बढ़ते जाते हैं। बाजार में करवा चौथ को बहुत भीड़ हो जाती है। हर तरफ मेंहदी लगे हाथों का ही नजारा दिखने लगता है।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner