Breaking News

ब�रेकिंग न�यूज़

हाथरस ,बाल विवाह करना एवं कराना दंडनीय अपराध है: विमल शर्मा.

post

हाथरस ,बाल विवाह करना एवं कराना दंडनीय अपराध है: विमल शर्मा


हाथरस दिनांक 23.09.2021 जनपद हाथरस के  विकास खण्ड सादाबाद  में ब्लॉक बाल संरक्षण समिति , बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, महिला शक्ति केंद्र, बाल विवाह ब्लॉक टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन किया गया।

 संरक्षण अधिकारी विमल कुमार शर्मा ने उपस्थित आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, सामान्य, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, बालश्रम,स्पॉन्सरशिप एवं फोस्टर केयर योजना, निराश्रित महिला पेंशन, घरेलू हिंसा, वन स्टॉप सेंटर चाइल्ड हेल्प लाइन नं0 (1098) के साथ बाल विवाह के बारे में जानकारी देते हुए कहां कि किसी भी बालिका जिसने अपनी आयु 18 वर्ष पूर्ण न की हो एवं किसी भी बालक/युवा जिसने अपनी आयु 21 वर्ष पूर्ण न की हो का विवाह कराया जाना प्रतिबंधित है बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 के अंतर्गत बाल विवाह दंडनीय अपराध है और बाल विवाह में प्रतिभाग करने वाले व्यक्तियों पर कानूनी कार्यवाही का प्रावधान किया गया है बाल विवाह अधिनियम के अंतर्गत बाल विवाह करने वाले व्यस्क पुरुष के लिए एवं बाल विवाह का अनुष्ठान करने वाले व्यक्तियों के लिए  2 वर्ष के कठोर कारावास या/ ₹ 1 लाख रुपए तक के जुर्माने का प्रावधान है बाल विवाह करना या कराना एक जघन्य अपराध है जिससे शारीरिक व मानसिक रूप से गंभीर दुष्प्रभाव होते हैं।

विधि सह परिवीक्षा  अधिकारी दीपक कुमार द्वारा पोक्सो अधिनियम 2012, रानी लक्ष्मीबाई महिला एवं बाल सम्मान कोष, कन्या सुमंगला योजना तथा किशोर न्याय अधिनियम 2015 की विस्तार से जानकारी देने के साथ  बालिकाओं को उच्च शिक्षा दिलाए जाने के लिए प्रेरित किया गया ।

सहायक विकास अधिकारी पंचायत श्री देवेंद्र गौतम  द्वारा  महिला कल्याण विभाग द्वारा चलाई जा रही है मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना,बाल संरक्षण, कन्या सुमंगला  आदि योजनाओं को बाल हित में बहुत ही उपयोगी बताया साथ ही बच्चों से संबंधित समस्त विभागों से अपील की कि बाल हित के लिए सभी आपस में समन्वय स्थापित कर योजनाओं का लाभ ग्राम स्तर तक पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास करें। 

शिक्षा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रवेद्र प्रताप सिंह द्वारा बच्चों एवं किशोरियों के स्वास्थ्य पोषण पर अधिक बल दिया साथ ही अपने विभाग से चल रही बच्चों से संबंधित योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

बैठक में प्रभारी बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती सोनू आर्य , आउटरीच कार्यकर्ता श्री कैलाश चंद एवं सादाबाद  विकासखंड की आंगनवाड़ी कार्यकर्ती,आदि उपस्थित रही।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner