Breaking News

ब�रेकिंग न�यूज़

इटावा ,संचारी रोग पर स्वास्थ्य विभाग आक्रामक.

post

इटावा ,संचारी रोग पर स्वास्थ्य विभाग आक्रामक


इटावा 8 सितंबर 2021


जनपद में संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने पूरी तरह से कमर कस ली है।

जनपद में डेंगू मरीजों को जिला अस्पताल सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी और निजी अस्पतालों में भर्ती किया गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ  भगवानदास में बताया स्वास्थ विभाग द्वारा हर  डेंगू के मरीज को  चिन्हित कर लिया गया है। मरीज के घरों पर जाकर परिवार के सदस्यों और आसपास रहने वाले लोगों की डेंगू व मलेरिया की जांच निरंतर की जा रही है शहर के विभिन्न क्षेत्रों और ग्रामीण क्षेत्रों में एंटी लारवा का छिड़काव और फागिंग मशीन द्वारा छिड़काव किया जा रहा है।


उन्होंने बताया संचारी रोग के लिए कंट्रोल रूम भी बनाया गया है जिसमें डेंगू मलेरिया चिकनगुनिया के संदर्भ में विस्तृत जानकारी दी जा रही है यदि कोई व्यक्ति बुखार से पीड़ित है तो उसे तुरंत इन नंबरों पर- 9045036394,9045253394,05688-258500 पर वह चिकित्सीय सलाह के साथ अस्पताल में भर्ती होने के लिए भी संपर्क कर सकता है। फोन करने पर उसे एंबुलेंस के द्वारा अस्पताल ले कर भर्ती कराया जा सकता है।


उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के चिकित्सा अधीक्षक प्रोफ़ेसर डॉ आदेश कुमार ने बताया मेडिकल यूनिवर्सिटी में भी 100 बेड का वार्ड बनाकर तैयार कर दिया गया है। डेंगू के लिए नोडल अधिकारी डॉ रमाकांत रावत को बनाया गया है।हम निरंतर डेंगू मलेरिया वायरल फीवर से ग्रस्त लोगों की निशुल्क जांच करवा रहे हैं,साथ ही संदिग्ध मरीजों को भी चिन्हित किया जा रहा है।  डेंगू से ग्रस्त मरीजों को वार्ड में भर्ती कराया जा रहा है उन्होंने बताया संचारी रोग नियंत्रण अभियान में विश्वविद्यालय द्वारा उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाओं को प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने बताया मरीजों की हेल्प के लिए हेल्प डेस्क की भी स्थापना की गई है जिससे मरीज भर्ती होने की सारी प्रक्रिया को आसानी से जान पाए और सलाह ले पाए।संचारी रोग नोडल अधिकारी डॉ महेश चंद्रा ने बताया सैफई मेडिकल विश्वविद्यालय में कुल 12 मरीज डेंगू के भर्ती है , जिसमें 3 मरीज इटावा जनपद के हैं । उनमें से 2 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं एक मरीज अभी भी भर्ती है। जिला अस्पताल में बुधवार को 11 लोगों की डेंगू की जांच हुई जिसमें 2 लोग डेंगू पॉजीटिव पाए गए और उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। 38 लोगों का मलेरिया की जांच की गई लेकिन कोई भी पॉजिटिव नहीं पाया गया। डॉक्टर चंद्रा ने कहा जनपद में जो भी व्यक्ति बुखार से पीड़ित है वह जिला अस्पताल में आकर अवश्य जांच कराएं लापरवाही न करें।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner