Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

इटावा ,बदलते मौसम में खानपान का रखें खास ख्याल .

post

इटावा ,बदलते मौसम में खानपान का रखें खास ख्याल 



सेवन करें घर का बना ताजा सुपाच्य व संतुलित आहार 

इटावा,04 सितंबर  2021।


डेंगू ,  मलेरिया व वायरल के बुखार में मरीज की पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है, जिससे भोजन आसानी से नहीं पचता है । इस दौरान मरीज को ऐसे पौष्टिक व संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए,जो   पचने में आसान हो जिला यह कहना है जिला अस्पताल की आहार विशेषज्ञ डॉ अर्चना सिंह का। उन्होंने बताया बदलते मौसम में असंतुलित खानपान से  प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित होती है जिससे व्यक्ति संक्रमण की चपेट में आ जाता है  और वायरल बुखार, डेंगू व मलेरिया जैसी बिमारियों से ग्रस्त हो जाता है। 

    यदि हम बदलते मौसम में खान-पान पर विशेष ध्यान दें तो विभिन्न बीमारियों से भी बचाव हो सकता है। उन्होंने बताया डेंगू व मलेरिया,वायरल बुखार का सहीं समय पर उपचार नहीं किया गया तो यह गंभीर रूप ले सकता है। डेंगू बुखार में प्लेटलेट्स तेजी से घटने लगते हैं। ऐसे में मरीज को  सही खुराक की जरूरत होती है।   मरीज को ऐसे पदार्थों का ही सेवन करना चाहिए जिनके पचने में आसानी  हो और वह पौष्टिक भी हो। डेंगू के रोगी को तैलीय, मिर्च-मसालों से बने पदार्थों को खाने से बचना चाहिए। आहार  विशेषज्ञ डॉ अर्चना सिंह ने कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में बताया जिनके सेवन से  वायरल, डेंगू, मलेरिया व बुखार में लाभ मिल सकता है | 

पपीता- पपीते का रस प्लेटलेट्स को बढाने में मदद करता है। इसके अलावा पपीते की पत्तियां बुखार दूर करती हैं। इसलिए सुबह पपीते के  पत्तों का रस पी सकते हैं। कच्चे पपीते की सब्जी,रायता,पराठे का भी प्रयोग कर सकते हैं।

सब्जियां-  बुखार के समय टमाटर, कद्दू, गाजर, खीरा, चुकंदर, हरी सब्जियां आदि का अधिक सेवन करना चाहिए। विटामिन और मिनरल्स से भरपूर ये सब्जियां मरीज के इम्यून सिस्टम को मजबूत करती हैं। इसके अलावा सब्जियों को हल्का पकाकर या उबालकर ही खाना चाहिए। 

प्रोटीन- डेंगू के मरीज को प्रोटीन की जरूरत होती है। इसलिए उसे अंडे, दूध (बकरी,गाय)  का सेवन करना चाहिए। 

फल- संतरा, पपीता, अमरूद, कीवी, आलू बुखारा, तरबूज व मौसमी फल बुखार आने पर खाना चाहिए। इससे शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ती है। 

नारियल का पानी-  बुखार में नारियल का पानी रामबाण का काम करता है। नारियल के पानी में कई मिनरल्स और पोषक तत्व होते है जो शरीर को फिट रखते हैं। 

दलिया-  बुखार आने पर शरीर का एनर्जी लेवल बहुत कम हो जाता है। इसलिए मरीज को दलिया देनी चाहिए और यह आसानी पच भी जाती है।

हर्बल टी-  बुखार के आने पर अदरक और इलायची से बनी हर्बल टी को मरीज को पीना चाहिए।

पानी- अधिक से अधिक पानी पीना डेंगू के मरीज के लिए बहुत फायदेमंद होता है। 

सूप- बुखार के मरीज को सूप देना चाहिए। इससे उसकी हड्डियों का दर्द भी कम होगा और मुंह का स्वाद भी ठीक रहेगा।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner