Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़

सीफार के सहयोग से कोविड टीकाकरण व इंसेफेलाइटिस उन्मूलन.

post

सीफार के सहयोग से कोविड टीकाकरण व  इंसेफेलाइटिस उन्मूलन

पर मीडिया संवेदीकरण कार्यशाला



जनसमुदाय के सहयोग से ही कोविड व  इंसेफेलाइटिस मुक्त होगा गोरखपुर :  सीएमओ


टीकाकरण स्थल पर प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने से बचने की अपील 


टीकाकरण में अवरोध पैदा करने वालों पर रहेगी नजर, होगी कार्रवाई 


आशा कार्यकर्ताओं से अपेक्षा-बीआरडी जाने में इंसेफेलाइटिस मरीजों का समय नष्ट न हो


*गोरखपुर, 20 अगस्त 2021*


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधाकर पांडेय ने कहा है कि कोविड और इंसेफेलाइटिस से गोरखपुर को मुक्त कराने के लिए जनसमुदाय का सहयोग नितांत आवश्यक है । स्वास्थ्य विभाग प्रत्येक व्यक्ति को कोविड का टीका लगवाएगा और हर बुखार के रोगी को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करेगा ।  कोविड टीकाकरण स्थल पर मास्क, दो गज की दूरी, साफ-सफाई जैसे प्रोटोकॉल के  उल्लंघन पर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी । इसके अलावा अगर कोई टीकाकरण में अवरोध पैदा करता है तो जिला प्रशासन के दिशा-निर्देशों के अनुसार कानूनी कार्यवाही होगी । इतना ही नहीं, अगर इंसेफेलाइटिस का कोई मरीज सीधे बीआरडी मेडिकल कालेज में भर्ती करा दिया जाता है तो संबंधित गांव की आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता से अपेक्षा है कि यह उनकी जानकारी में हो । अगर ऐसे मरीज के  बारे में अंग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता को जानकारी नहीं है तो उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही होगी ।


 यह बातें मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने सीएमओ कार्यालय स्थित प्रेरणा श्री सभागार में स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण संबंधित मीडिया संवेदीकरण कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहीं । कोविड टीकाकरण एवं इंसेफेलाइटिस उन्मूलन विषयक इस कार्यशाला का आयोजन स्वास्थ्य विभाग ने स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) के सहयोग से शुक्रवार को किया । कार्यशाला में पत्रकार बंधुओं  के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके प्रसाद, डॉ. गणेश यादव, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. अंगद सिंह, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक पंकज आनंद , जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी के. एन. बरनवाल, जिला क्वालिटी एश्योरेंस कंसल्टेंट डॉ. मुस्तफा खान, जिला एआरओ केपी शुक्ल, आदिल, संदीप राय, शोएब, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. संदीप पाटिल, यूनीसेफ के प्रतिनिधि, यूएनडीपी के प्रतिनिधि पवन सिंह और पाथ संस्था के अधिकारी डॉ. राहुल कांबले, प्रतिनिधि राहुल ने प्रतिभाग किया। मीडिया ने खुले सत्र में स्वास्थ्य से जुड़े विभिन्न विषयों पर सवाल भी पूछे ।


इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि प्रायः देखने में आ रहा है कि लोग कोविड टीकाकरण केंद्र पर नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं और टीकाकरण को बाधित भी कर रहे हैं । विभाग सभी को टीकाकरण की सेवा देने के लिए प्रतिबद्ध है ,  जो लोग अच्छी सुविधा चाहते हैं उन्हें ऑनलाइन स्लॉट बुक करके ही टीकाकरण के लिए आना चाहिए । सभी स्वास्थ्य केंद्रों से जुड़े स्थानीय प्रशासन और पुलिस अधिकारियों को पत्र भेज कर ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने को कहा गया है जो कोविड नियमों का उल्लंघन करते हुए टीकाकरण को बाधित कर रहे हैं । कोविड टीकाकरण के समय और बाद में भी लोगों को प्रोटोकॉल का पालन सख्ती के साथ करना है ।


डॉ. पांडेय ने कहा कि बारिश  के मौसम में अगर किसी में भी तेज बुखार की शिकायत है तो उसे आशा, एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की मदद से नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र की सेवाएं प्राप्त करनी चाहिए । बुखार की स्थिति में 108 नंबर एंबुलेंस की सेवा लेनी है । अपने मन से न तो दवा लेनी है और न ही किसी अप्रशिक्षित  की सलाह पर इलाज करना है । मरीज को सीधे मेडिकल कालेज ले जाने की बजाय पहले स्थानीय और नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर ले जाना है ताकि ट्रांसपोर्टेशन के समय की बचत हो और इलाज में देरी न हो । गांव की आशा, एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी तेज बुखार के रोगियों के संबंध में सक्रिय रहने का दिशा-निर्देश है । अगर उनकी गैर जानकारी में मरीज को सीधे मेडिकल कालेज भर्ती कराया जाता है तो उन पर भी कार्यवाही होगी। 


इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (आरसीएच) डॉ. नंद कुमार ने बताया कि 19 अगस्त को घोषित परिणाम के अनुसार खोराबार, जंगल कौड़िया, ब्रह्मपुर, कौड़ीराम, सरदारनगर, डेरवा और पिपरौली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को कायाकल्प अवार्ड मिला है । इस तरह वित्तीय वर्ष 2020-21 में गोरखपुर जिले को कुल 10 ब्लाक अस्पताल को कायाकल्प अवार्ड मिल चुके हैं।


जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. अंगद सिंह ने मच्छर दिवस के बारे में मीडिया को विस्तार से जानकारी दी और बताया कि मच्छरों से बचाव करके कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है।इस मौके पर आभार ज्ञापन अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके चौधरी ने किया । उन्होंने मच्छरजनित विभिन्न रोगों के लक्षणों के बारे में भी जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन सीफॉर के  रीजनल को-आर्डिनेटर वेद प्रकाश पाठक ने किया ।


*नियमित टीकाकरण पर भी पूरा ध्यान* 

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज कुमार पांडेय ने इस मौके पर कहा कि कोविड टीकाकरण के साथ ही नियमित टीकाकरण  की स्थिति भी अब सामान्य हो गयी है  । ऐसे में लोगों से अपील है कि प्रत्येक बुधवार और शनिवार को नियमित टीकाकरण अवश्य करवाएं । शहर में चार स्थानों पर प्रतिदिन नियमित टीकाकरण हो रहा है । मोहद्दीपुर और बसंतपुर शहरी स्वास्थ्य केंद्र, एम्स और जिला महिला अस्पताल में किसी भी कार्यदिवस पर नियमित टीकाकरण करवाया जा सकता है । हमे कोविड काल में पांच साल में सात बार टीकाकरण के मंत्र को नहीं भूलना है 


*व्हाट्सएप पर प्राप्त करें प्रमाण पत्र*

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने व टीकाकरण प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए  व्हाट्सएप सुविधा भी सरकार ने शुरू की है । इसके लिए सबसे पहले व्हाट्सएप नम्बर- 9013151515 को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल के कॉन्टैक्ट लिस्ट में मायजीओवी (MyGov) नाम से सेव कीजिये । इसके बाद व्हाट्सएप पर जाकर इस नम्बर पर हाय (Hi) का सन्देश भेजिए, उसके बाद एक से लेकर आठ तक के आप्शन आएंगे कि आप इनमें से किस तरह की जानकारी चाहते हैं, जो जानकारी चाहिए उस नम्बर को दर्ज करें । अगर हिंदी में जानकारी चाहते हैं तो उसकी भी सुविधा है । उसके लिए हिंदी टाइप करना पड़ेगा ।   इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर वन टाइम पासवार्ड (ओटीपी) आएगा, जिसे दर्ज करने के बाद मांगी गयी जानकारी या कोविड टीकाकरण का प्रमाणपत्र आपकी स्क्रीन पर होगा ।

Latest Comments

Leave a Comment

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner